WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

रूस यूक्रेन युद्ध का असर: पेट्रोल-डीजल महंगे होने के बाद इन कुकिंग तेलों के बढ़े दाम

Share the love

रूस यूक्रेन युद्ध का असर: पेट्रोल-डीजल महंगे होने के बाद इन कुकिंग तेलों के बढ़े दाम

Oil.jpg

रूस और यूक्रेन( russia ukrain war) के बीच चल(refined oil) रहे संघर्ष का सूरजमुखी तेल (oil refined)की आपूर्ति पर गंभीर प्रभाव पड़ा है. (Fortune oil Price)दोनों देशों के बीच जंग के(price fortune oil) चलते खाद्य तेल की कीमतों में तेजी आई है

By. Sarkari Result Job India

नई दिल्ली। रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे संघर्ष का सूरजमुखी तेल की आपूर्ति पर गंभीर प्रभाव पड़ा है. दोनों देशों के बीच जंग के चलते खाद्य तेल की कीमतों में तेजी आई है. यूक्रेन से आने वाले सूरजमुखी के तेल का आयात बंद हो गया है, जिससे तेल और रिफाइंड के दाम बढ़ गए हैं. रूस-यूक्रेन युद्ध का असर अब देश के बाजारों में दिखने लगा है. आर्थिक क्षेत्र के जानकारों का कहना है कि युद्ध का शुरुआती असर खाद्य तेलों में दिख रहा है, लेकिन आने वाले समय में डीजल और पेट्रोल महंगा होगा और अन्य खाद्य पदार्थ महंगे होंगे.

रूस यूक्रेन युद्ध का असर: पेट्रोल-डीजल महंगे होने के बाद इन कुकिंग तेलों के बढ़े दाम

रूस और यूक्रेन के बीच जारी जंग का खामियाजा पूरी दुनिया पर पड़ रहा है. वहीं युद्ध का असर लोगों की जेब पर पड़ने लगा है. सबसे ज्यादा असर तेल की कीमतों में देखने को मिला है. विशेषज्ञों के अनुसार भारत हर साल 25 लाख मीट्रिक टन सूरजमुखी तेल का आयात करता है, जिसमें से 70 प्रतिशत यूक्रेन से, 20 प्रतिशत रूस से और 10 प्रतिशत अर्जेंटीना से आता है. ऐसे में जब से रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध शुरू हुआ है तब से सूरजमुखी के तेल का आयात बंद हो गया है.

यह भी पढ़ें -   MS Dhoni Heroine: क्रिकेट को छोड़ फिल्मी दुनियां में उतरे MS dhoni, जानिए कौन होंगी फिल्म की हिरोइन

 

चंडीगढ़ व्यापार मंडल के महासचिव और सेक्टर-23सी सीएम स्टोर के संचालक नरेश महाजन ने बताया कि रिफाइंड के दामों में काफी वृद्धि हुई है. पिछले हफ्ते रिफाइंड तेल की कीमत 130 रुपये थी, जो अब बढ़कर 160 रुपये प्रति लीटर हो गई है। सरसों का तेल 170 रुपये प्रति लीटर था, अब यह 190 रुपये पर पहुंच गया है.देसी घी में 10 से 20 रुपये की बढ़ोतरी हुई है.

 

वहीं, ऑल चंडीगढ़ रिटेल करियाना एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेंद्र जैन ने कहा कि पहले सनफ्लावर एलॉय 160 प्रति लीटर था अब 190 हो गया है. सोयाबीन रिफाइंड पहले 145 रुपये से बढ़कर 175 रुपये से 185 रुपये हो गया है.उन्होंने बताया कि रिफाइंड में पिछले महीने 10 रुपये की गिरावट आई थी, लेकिन अब एक बार फिर यह महंगा बिक रहा है. हालांकि पुराना स्टॉक दुकानदारों के पास पड़ा है, जिस पर पुराना एमआरपी छपा हुआ है, लेकिन अब जो नया स्टॉक आएगा उसमें नई एमआरपी छपेगी.

 

तेल कारोबारियों ने कहा कि भारत में आयात होने वाला ज्यादातर सूरजमुखी तेल यूक्रेन से आता है. तेल की खपत को देखते हुए युद्ध से पहले आदेश दिया गया, लेकिन तेल नहीं आ रहा है. शादियों में रिफाइंड की खपत ज्यादा होती है.भारत में रिफाइंड सोयाबीन और सूरजमुखी का अधिक उपयोग किया जाता है.


Share the love
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Sakari Result Telegram Join Now
Sakari Result Telegram Join Now